गणित विभाग

विभाग का संक्षिप्त विवरण :

गणित विभाग कलकत्ता विश्वविद्यालय के स्नातकोत्तर केन्द्र की स्थापना के समय से ही कार्यरत है। गणित विभाग एमबीबी महाविद्यालय के स्नातकोत्तर विभाग के रूप में 1967 से चल रहा था परन्तु स्नातकोत्तर केन्द्र की स्थापना के समय निष्क्रिय चल रहा था। गणित विभाग के सभी स्नातकोत्तर शिक्षकों को स्नातकोत्तर केन्द्र कलकत्ता विश्वविद्यालय में स्थानांतरित कर दिया गया। कलकत्ता विश्वविद्यालय का प्योर मैथमेटिक्स का पाठ्यविवरण को अपनाया गया। नया पाठ्यविवरण जो प्योर और एप्लाइड मैथमैटिक्स दोनों को शामिल करता था वह 1978 से आरंभ हुआ। 02.10.1987 को त्रिपुरा विश्वविद्यालय स्थापित हुआ और स्नातकोत्तर केन्द्र कलकत्ता विश्वविद्यालय का गणित विभाग, तीन पूर्णकालिक शिक्षक तथा 12 विद्यार्थियों के साथ त्रिपुरा विश्वविद्यालय में सम्मिलत कर दिया गया। 02.07..2007 को त्रिपुरा विश्वविद्यालय केन्द्रीय विश्वविद्यालय बना। विभाग एफआईएसटी द्वारा प्रायोजित है। वर्तमान में विभाग के संकाय सदस्यों द्वारा यूजीसी प्रायोजित 1 वृहद तथा तीन सूक्ष्म परियोजनाएं संचालित की जा रही हैं।

स्थापना वर्ष :

1976

विभागाध्यक्ष :

प्रो. शर्मिष्ठा भट्टाचार्य (हालदर)

 

 

कुल विजिटर्स की संख्या : 3561969

सर्वाधिकार सुरक्षित © त्रिपुरा विश्वविद्यालय

अंतिम अद्यतनीकरण : 02/07/2022 02:03:25

रूपांकन एवं विकास डाटाफ्लो सिस्टम