आणविक जैविकी तथा जैव-सूचना विभाग

विभाग का संक्षिप्त परिचय :

वर्ष 2012 में विभाग की स्थापना छात्रों को एमएससी स्तर पर शिक्षित करने और अनुसन्धान तथा विकास में आधुनिक जीवविज्ञान के उन क्षेत्रों में सक्रियता से संलग्न होने के लिए की गई है जो आर्थिक उत्थान के लिए आवश्यक हैं। स्नातकोत्तर स्तर पर आणविक जैविकी एवं जैव-सूचना की विशेषज्ञता का संयोजन, युवा मस्तिष्कों को इन दोनों क्षेत्रों में मूलभूत तथा अनुप्रयोगात्मक कार्यक्रम की समस्याओं से निपटने के लिए तैयार करेगा |

स्थापना वर्ष :

2012

 

विभागाध्यक्ष :

डॉ. सुराजीत भट्टाचार्य

 

 

 

कुल विजिटर्स की संख्या : 4978729

सर्वाधिकार सुरक्षित © त्रिपुरा विश्वविद्यालय

अंतिम अद्यतनीकरण : 24/06/2024 02:03:41

रूपांकन एवं विकास डाटाफ्लो सिस्टम